Vodafone idea इकट्ठे होकर बने ‘Vi’, टेलिकॉम इंडस्ट्री में पकड़ बनाने का होगा लक्ष्य

0
346
Vodafone idea merge

Vodafone idea के बीच दो वर्ष पहले हुए विलय ने आज नए ब्रांड को जन्म दिया है। जिसका नाम कंपनी ने ‘Vi’ रखा है। इसमें ‘V’ का मतलब Vodafone है और ‘i’ का संबंध आदित्या बिरला ग्रुप की टेलीकॉम कंपनी idea से है। यह विलय होने से दोनों दिग्गज कंपनी ने jio और airtel को टेलीकॉम सेक्टर में पछाड़ने की पेशकश की है। गौरतलब है कि Vodafone idea के उपभोक्ताओं में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही थी जिससे कंपनी को काफी नुकसान पहुंचा। अब कंपनी के उच्च स्तरीय अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि करी है कि दोनों कंपनियों के विलय होने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और अब दोनों कंपनी  अलग अलग नाम से नहीं ‘Vi’ के नाम से जाना जाएगा।

Vodafone idea को हुआ था भारी नुकसान

साल 2015 के बाद से jio के आने के बाद Vodafone idea को अपने उपभोक्ताओं की गिनती में कटौती देखने को मिली, जहाँ पहले दोनों कंपनी टेलीकॉम सेक्टर में अव्वल दर्जे के थे तो वहीं 2015 के बाद से कमजोर होने की दौड़ में शामिल हो गए। कंपनी को पिछले वित्त वर्ष कुल मिलाकर भारतीय रुपए में 73,878 करोड़ रुपए का घाटा हुआ जो एक वित्त वर्ष में किसी भी अन्य कंपनियों के मुकाबले सबसे अधिक था। लेकिन अब कंपनी jio से टक्कर लेने को तैयार है, इसके लिए कंपनी ने कर्ज और इक्विटी लेकर 25000 करोड़ जुटाने का इरादा किया है जिसका इस्तेमाल सरकारी बकाया और नेटवर्क को सुधारने में किया जाएगा।

Vodafone idea का नई शुरुआत करने का समय

वोडाफोन आईडिया का मर्जर दुनिया का सबसे बड़ा विलय प्रक्रिया है जो अब पूरी हो चुकी है। Vodafone idea का मर्जर 2018 के अगस्त माह में हुआ था जो अब जाकर यानी 7 सितंबर को Vi का नाम दिया गया। कंपनी के सीईओ रविन्द्र ठक्कर इसे दोनों कंपनियों की नई शुरुआत कहते हैं। वो कहते हैं कि Vi को लांच करने का यह सबसे सही मौका है, और वे कंपनी को लांच करते हुए बेहद खुश दिखे।
कंपनी का पूरा फोकस अब अपने यूजर को बढ़ाना होगा और उन्हें बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने का होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here