Delhi:- 5000 करोड़ की मांग, डिप्टी सीएम का खत

2
124
delhi manish sisodia

Delhi के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने केंद्र से 5000 करोड़ रुपए की मांग करी है। यह मांग कोरोना के खिलाफ जंग में लगे डॉक्टर्स और पुलिसकर्मियों की सहायता के लिए इस्तेमाल में लाया जाएगा। रविवार(31 मई) को प्रेस कॉन्फ्रेंस में Delhi के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने यह जिक्र करते हुए कहा है कि Delhi फिलहाल आर्थिक संकट से जूझ रहा है। डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता में कहा कि “Delhi को दो महीने के लिए सात हजार करोड़ रुपए की आवश्यकता है, हमारे पास फिलहाल डॉक्टरों, शिक्षकों को सैलरी देने तक पैसे नहीं हैं।” यह मैसेज डिप्टी सीएम ने केंद्र वित्त मंत्री को भी भेजा।

कोरोना से Delhi समेत पूरा देश लॉकडाउन से गुजर रहा है। जिसके कारण पिछले कुछ महीनों से व्यापार भी अपनी पटरी से उतर चुकी है। इसी का जिक्र करते हुए डिप्टी सीएम ने कहा है कि दिल्ली में टैक्स कलेक्शन बेहद कम हुआ है। उनके मुताबिक दिल्ली में तकरीबन 85 प्रतिशत कम टैक्स इकट्ठा हुआ। डिप्टी सीएम ने इस वार्ता में केंद्र का उन्हें राहत कोष की मूल्य राशि न देने का भी आरोप लगाया।

Delhi के लिए चाहिए 7 हजार करोड़ रुपए:- डिप्टी सीएम

डिप्टी सीएम ने कहा है कि उन्होंने दिल्ली गवर्नमेंट की रेवेन्यू और जरूरी खर्चों को कैलकुलेट किया है। जिसके अंतर्गत हमें सैलरी और ऑफिस के रख रखाव के लिए कम से कम 3500 करोड़ रुपए चाहिए। पिछले दो माह से जीएसटी कलेक्शन 500 करोड़ ही प्राप्त हुए। बाकी के कुछ माध्यमों से 1735 करोड़ रुपए आए। हमें केंद्र से दो महीने के लिए 7000 करोड़ रुपए की जरूरत है।

Delhi में बढ़ते कोरोना के मरीज

पिछले दो से तीन दिनों में दिल्ली में कोरोना मीटर 1000 से ऊपर मरीज का आंकड़ा स्थापित कर रहा है। यह आंकड़े एक प्रश्न खड़ा कर रहे हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक Delhi में आज(31 मई) के आंकड़ों 1295 संक्रमित व्यक्ति को मिलाकर कुल 19844 केस पाए गए हैं, जिनमे से 10,893 व्यक्ति अभी एक्टिव संक्रमित हैं। हालांकि 8478 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना की पूर्ण जानकारी के लिए आप हमारे इस पेज पर जा सकते हैं।

धन्यवाद

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here