कोरोना Coronavirus Problem:- रिकॉर्ड मामले हुए दर्ज, क्या यह है लॉकडाउन बढ़ने के...

Coronavirus Problem:- रिकॉर्ड मामले हुए दर्ज, क्या यह है लॉकडाउन बढ़ने के संकेत?

0

Coronavirus Problem से देश ग्रस्त होता जा रहा है। हर दिवस भारत में एक नए रिकॉर्ड संक्रमण के आंकड़े लोगों के भीतर लॉकडाउन बढ़ने की आशंका जाग्रत करने लगा है। देश में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 3 लाख 21 हजार 4 सौ 6 मामले हो चुके हैं। जिनमे से 9199 लोगों की मृत्यु। गौरतलब है कि हाल ही में एक प्रसिद्ध न्यूज़ चैनल का नाम लेकर यह फैलाया गया कि “15 जून से देश मे संपूर्ण लॉकडाउन फिर लागू होगा।” परन्तु उसी न्यूज़ चैनल ने उस खबर के गलत होने की पुष्टि करी।
Coronavirus Problem से लड़ने के लिए देश के विभिन्न राज्यों के मंत्रियों ने सरकारों ने अपने तर्ज पर काम किया लेकिन इसके बावजूद कोरोना का कहर देश पर टूट पड़ा है। ताजा आंकड़ों में देश में अब एक नया रिकॉर्ड स्थापित हो चुका है। शनिवार की शाम को देश में 11,811 नए मामलों की पुष्टि हुई। Coronavirus Problem में फिलहाल भारत के लिए सुखमय खबर यह है की भारत में स्वस्थ होते मरीजों का आंकड़ा बेहद तेजी से बढ़ा है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक जिस राज्य में रिकवरी रेट 90% तक पहुंच जाता है उस राज्य को कोरोनावायरस संकट से मुक्त घोषित किया जा सकता है।

 

Coronavirus Problem से यह राज्य हो सकते है मुक्त

Image Screenshot source Covid19india

 

अगर covid19india.org के डाटा को आधार माना जाए तो भारत के कई राज्यों में रिकवरी रेट वहाँ रहने वाले जनसंख्या के लिए बेहद अच्छी खबर है। यह राज्यो में कोरोना से जूझते मरीज जल्द स्वस्थ हो रहे हैं।

गुजरात कोरोना:- कोरोना वायरस की शुरुआत में राज्य में केस बेहद तेज गति से बढ़े। लेकिन अब ताजा मामलों में गुजरात मे हॉस्पिटल से अधिकांश मरीज स्वस्थ होकर वापस अपने घर की ओर निकल रहे हैं। राज्य में 68 फीसद से ज्यादा कोरोना से जूझते मरीज ठीक हो रहे हैं।

उत्तर प्रदेश कोरोना:- राज्य में कोरोना वायरस के हालात में काफी हद तक पा लिया गया है। उत्तरप्रदेश प्रशासन की तारीफ भारत के चिरप्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान ने भी तारीफ करी। राज्य में कुल 13118 संक्रमित लोगों में से अब केवल 4858 लोग ही सक्रिय रह गए हैं।

राजस्थान कोरोनावायरस- राजस्थान Coronavirus Problem वाले राज्य में टॉप पांच पर रहा। राजस्थान में जो मामले कोरोना वारियर्स तक पहुंचे वे अधिकांश स्वस्थ होकर ही घर लौटे। राज्य में कुल 12401 मामले अब तक दर्ज किए जा चुके हैं जिसमे से 9337 लोग ठीक हो चुके हैं।

पंजाब कोरोना रिकवरी रेट:- कप्तान अमरिंदर सिंह द्वारा शासित राज्य पंजाब में निर्णय बेहद उचित समय पर लिया गया। जिसके तहत आलम यह है कि पंजाब में मरीजों के स्वस्थ होने की गति बेहतर है। राज्य में 75 फीसदी तक मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

चंडीगढ़:- केंद्र शासित राज्यों में शुमार चंडीगढ़ में भी कोरोना के मरीज स्वस्थ हो रहे हैं। चंडीगढ़ में 350 कुल मरीजों में से केवल 50 मरीज ही सक्रिय रह गए हैं उम्मीद है यह भी जल्द स्वस्थ हो जाएं।

हिमाचल प्रदेश कोरोना स्थिति:- पहाड़ो का राज्य हिमाचल में भी अब कोरोना से काफी हद तक काबू पाने की फिराक में सफलता हासिल कर रहा है। हालांकि सूबे में नए केस बढ़ रहे हैं लेकिन स्वस्थ होने की गति भी उसी गति से बढ़ी है। आंकड़ों के मुताबिक हिमाचल में अब 502 मरीजों में से 308 लोगों को स्वस्थ कराकर घर भेज दिया गया है।

 

यह राज्य अभी भी Coronavirus Problem से ग्रस्त

 

महाराष्ट्र अपडेट:- कोरोना का कहर महाराष्ट्र में सबसे अधिक दिखने को मिल रहा है। हालांकि महाराष्ट्र में कोरोना से स्वस्थ होते मरीजों की संख्या और एक्टिव केस बेहद आसपास है लेकिन हर दिन 3000 से अधिक संक्रमण के शिकार होते मरीजों का आना राज्य के लिए चिंताजनक है। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने हाल ही में न्यूज़ चैनल में कहा है कि उद्धव सरकार केस को कम बता रहे हैं।

दिल्ली कोरोना वायरस:- देश की राजधानी दिल्ली की खराब हालत सुर्खियां बटोर रही है। सुप्रीम कोर्ट के द्वारा लताड़ लगाए जाने के बाद से दिल्ली में राजनीतिक से सम्बंधित नेता भी दिल्ली को कोरोना मुक्त करने के प्रयास में फिलहाल जुट गए हैं। ताजा मामलों में दिल्ली में 2134 नए मरीज आ चुके हैं। आज सुबह 11 बजे अमित शाह, डॉक्टर हर्षवर्धन के साथ दिल्ली सरकार केजरीवाल जी की मीटिंग होगी।

Coronavirus Problem से ग्रस्त राज्यों में वे राज्य भी शामिल है जहाँ सुविधाओं का अभाव है। इनमें दादरा नगर हवेली दमन डीयू, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, जैसे कई राज्य शामिल हैं यहां कोरोना के केस में स्वस्थ लोगों की मात्रा बेहद कम पाए गई है।

 

Coronavirus Problem में बढ़ सकता है लॉकडाउन

 

अधिकांश राज्यों ने इस बात से इनकार कर दिया है कि लॉकडाउन बढ़ेगा, लेकिन इस बात को झुठलाया भी नहीं जा सकता है कि देश में संक्रमण के मरीज की गिनती में इजाफा हुआ है। प्रधानमंत्री मोदी भी इससे चिंतित है। राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोरोना के हाल और आगे के प्लान को बनाने के लिए मोदी जी ने वीडियो मीटिंग का आयोजन रखा है, जो 16 एवं 17 जून को होगा। इसमें देश मे लॉकडाउन बढ़ने का या नियम में बदलाव के बारे में निर्णय लिया जा सकता है।

 

Rightop की अपील

 

हम अपना कर्तव्य समझते हैं हमारा मकसद अपने पाठकों को सच्चाई से अवगत करवाना है न कि भयभीत करना। कोरोना से डराना या नेगेटिव एप्रोच रखना हमारा उद्देश्य नहीं।

कोई टिप्पणी नहीं है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version