CM Kejriwal का दिल्ली में लॉकडाउन लगाने के संकेत, लगातार कोरोना के गिरफ्त में दिल्ली

0
140
CM Kejriwal hints another Lockdown in Delhi

राजधानी दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना के मामलों ने CM Kejriwal को फिर से सोचने पर मजबूर कर दिया है, जिसके कारण दिल्ली में फिर से लॉकडाउन करने का सीएम केजरीवाल ने निर्णय लिया है। दिल्ली में नवंबर महीने की शुरुआत से ही कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है जो 1 दिन में सर्वाधिक 8 हजार से भी अधिक मामले दर्ज कर चुकी है। विशेषज्ञों की माने तो अगर दिल्ली में सही कदम न उठाए गए तो आने वाले दिन में 15 हजार मरीजों से ज्यादा मरीज भी एक दिन में आ सकते हैं।

स्वास्थ्य मंत्री और CM Kejriwal के बयानों में तालमेल की कमी

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने हाल ही में दिल्ली में लॉकडाउन की खबरों को खारिज किया था लेकिन CM kejriwal ने प्रेस वार्ता में आंशिक लॉकडाउन की बात की है। दिल्ली में बढ़ते कोरोना केस को देखते हुए यह लॉकडाउन लगाए जा रहे हैं। केंद्र सरकार के लॉकडाउन करने के नियम में बदलाव के कारण अब हर राज्य को कोई भी एरिया या जगह बंद करना होगा उससे पहले केंद्र की रजामंदी चाहिए होगी। इसीलिए सीएम केजरीवाल ने कई जगहों को बंद करने के लिए एलजी को चिट्ठी लिखी है।

यह भी पढ़े:- कोरोना की चपेट में फिर भारत

यह एरिया किए जा सकते है बंद

बढ़ते कोविड केस के कारण दिल्ली के कई हिस्सों को फिर से लॉकडाउन करने की मांग तेज है। इसी को देखते हुए आज 19 नवंबर को सुबह 11 बजे CM Kejriwal ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। लेकिन दिल्ली के कुछ एरिया जहाँ पर फिर से लॉकडाउन लगने के कयास लगाए जा रहे हैं उनमें लक्ष्मी नगर का मंगल बाजार, करोल बाग, सरोजिनी नगर, चांदनी चौक और सदर बाजार शामिल है। मीडिया सूत्रों की माने तो दिल्ली सरकार दुकानों को खोलने के लिए ओड इवन नियम को भी लागू कर सकती है। मतलब यह कि सोमवार को एक कैटेगरी की दुकान और मंगलवार को अलग तरह की दुकान खोली जाएगी।

छठ पर्व पर रोक!, हाई कोर्ट की हामी

दिल्ली में बीते 24 घंटो में कोरोना से रिकॉर्ड 131 मौतों का आंकड़ा आया है। कोरोना के बढ़ते रफ्तार को रोकने के लिए सरकार ने एहतियात बरतने के लिए छठ पर्व पर सार्वजनिक क्षेत्रों में मनाने पर रोक लगा दिया है जिसे दिल्ली हाई कोर्ट ने भी स्वीकार किया है। हाई कोर्ट का कहना है कि “जब जान बचेगी तब ही कोई पर्व मना पाएंगे।” लेकिन CM Kejriwal के इस फैसले में बीजेपी और आप पार्टी में ‘तू तू मैं मैं’ वाली जंग छिड़ गई है।

कमाल के ‘नमकहराम’ हैं CM Kejriwal:- मनोज तिवारी

भोजपुरी मशहूर गायक और भाजपा नेता मनोज तिवारी ने ट्विटर के माध्यम से मुख्यमंत्री केजरीवाल को छठ पर रोक लगाने के कारण अपशब्द कह दिए हैं। तिवारी मानते हैं कि यह गाइडलाइंस के रूप मे ड्रामा किया जा रहा है।

तिवारी कहते हैं कि “कमाल के नमकहराम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। सोशल डिस्टेंस के लिए सेंटर से अनुमति लेने का ड्रामा करते हैं और जो आपने 24 घंटे शराब परोसी वह कौन सी गाइडलाइंस का पालन कर रही थी?”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here