Bengal Chunav 2021:- शुभेंदु बने नंदीग्राम के श्रेष्ठ ‘अधिकारी’, लेकिन सत्ता पर काबिज हुई ममता

0
102
Bengal Chunav 2021 results

Bengal Chunav 2021 में सभी बंगालियों समेत पूरे भारत की निगाहें टिकी हुई थी, राज्य में बीजेपी एवं तृणमूल कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर रहने की उम्मीद जताई जा रही थी। Bengal Chunav 2021 में तृणमूल कांग्रेस ने अपना पुराने परफॉर्मेंस में सुधार करते हुए 214 सीटों पर जीत हासिल किया तो वहीं बीजेपी ने 3 सीटों से 78 सीटों तक के सफर को तय कर लिया है जिससे अब बंगाल में बीजेपी प्रमुख विपक्षी दल बन कर उभरी है। बंगाल में बीजेपी को मिली शिकस्त के बाद भाजपा के वरिष्ठ एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री यशवंत सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा है कि ” भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का ममता बनर्जी पर गलत टिप्पणी करना ही उनकी हार का सबसे बड़ा कारण है।”

नंदीग्राम में चला अलग ही खेल, कभी ममता बनर्जी आगे तो कभी शुभेंदु अधिकारी

तृणमूल कांग्रेस से अलग होकर भाजपा में आए शुभेंदु अधिकारी अपनी मजबूत सीट नंदीग्राम से जैसे ही पर्चा भरा उसी के बाद ममता बनर्जी ने भी नंदीग्राम से जीत का दम भरा। उसके बाद से यह सीट मीडिया की नजर में काफी आने लगी। नंदीग्राम ही वह जगह है जहां से तृणमूल कांग्रेस ने अपना राजनीतिक सफर की शुरुआत की थी। 17 राउंड की काउंटिंग में 15वीं काउंटिंग तक शुभेंदु अधिकारी लीड में बने रहे। लेकिन 16 वीं दौरे की काउंटिंग में पासा पलटा जिसमें ममता बनर्जी 820 वोटों से लीड में आई और एक बार 1200 वोटों की लीड लेने के बाद उन्हें जीता हुआ घोषित किया गया। लेकिन इसके दो घंटे के बाद इलेक्शन कमीशन ने भाजपा के शुभेंदु अधिकारी को 1700 के अधिक से शुभेंदु अधिकारी को विजेता घोषित किया गया। हालांकि ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में फिर से काउंटिंग की गुजारिश की लेकिन इलेक्शन कमीशन ने इसे रिजेक्ट कर दिया। 

TMC ममता बनर्जी की Bengal Chunav 2021 की जीत के बाद कई नेताओं ने दी बधाई

ममता बनर्जी की जीत के बाद कई नेताओं की धन्यवाद की प्रतिक्रिया आने लगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ट्विटर के माध्यम से धन्यवाद देने के साथ इसका भी आश्वासन दिया है कि केंद्र सरकार बंगाल के लिए कार्य करने में पूरा सहयोग करेगी। बाकी शीर्ष नेताओं की भी प्रतिक्रिया पढ़ें।

Bengal Chunav 2021 के अलावा इन 3 राज्य और 1 केंद्र शासित राज्यों में भी हुआ चुनाव

Bengal Chunav 2021 के अलावा तीन राज्य केरल, तमिलनाडु एवं असम के साथ एक केंद्र शासित राज्य पांडुचेरी में भी चुनाव हुआ। जहां असम में NDA दल फिर से सत्ता में आई तो वहीं पांडुचेरी में भी पहली बार NDA का खाता खुला है। केरल में लेफ्ट की सरकार फिर से आई है और तमिलनाडु में DMK प्लस ने अपनी सरकार बनाई है। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here