Apple iPhone के पुराने मॉडल को धीमा करने के आरोप में कंपनी पर 840 करोड़ रुपए का जुर्माना

0
180
Apple iPhone 6,7 and SE

पुराने Apple iPhone मॉडल को स्लो करने के आरोप में एप्पल कंपनी को 840 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया गया है। यह वाक्य साल 2016 का है जब कंपनी ने आईफोन 6,7 और एसई Apple iPhone मॉडल में अपडेट जारी किया था, जिसका मकसद फ़ोन को बेहतर और तेज करना नहीं था बल्कि स्लो करना था।

33 राज्यों ने दायर की Apple कंपनी के खिलाफ याचिका

इस अपडेट की जानकारी Apple iPhone के ग्राहकों के पास नहीं थी, जिसके कारण एप्पल कंपनी पर यह भारी जुर्माना लगाया गया। अटॉर्नी जनरल जेवियर बसेरा जो कैलिफोर्निया से तालुक्क्त रखते हैं उन्होंने इस जुर्माने की बात बताते हुए कहा कि अमेरिका के 33 राज्यों की याचिका दायर के निपटाने के दौरान यह फैसला लिया गया। हालांकि Apple iPhone के उन मॉडल्स को धीमा करने के आरोप को नहीं मान रहा है, लेकिन जुर्माना भरने को तैयार है।

Apple कंपनी की दलील हजम नहीं हुई इसीलिए लगाया गया जुर्माना

कंपनी ने अपने भेजे गए अपडेट से फ़ोन धीमे होने की बात नकारते हुए दलील दिया कि फोन में कोई खराबी न आए और बैटरी के कारण फोन स्विच ऑफ न हो इसीलिए वह जरूरी अपडेट भेजा गया था। लेकिन लोगों के भीतर यह दलील हजम न हो पाई। इसीलिए इस शिकायत को कोर्ट में भेजा गया जिसके ऊपर जांच की शुरुआत की गई।

Apple iPhone के पुराने मॉडल के हर अमेरिकी ग्राहकों को एप्पल कंपनी देगी 1854 रुपए

अमेरिका के कोर्ट ने इस फैसले में यह कंपनी को आदेश दिया है कि अमेरिका के जितने लोगों के पास भी Apple iPhone के 6,7 या एसई वाले मॉडल थे उन्हें कंपनी 25 डॉलर अदा करेंगी। जो भारतीय रुपए में कुल 1854 रुपए बनते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here